Beti Hai To Kal Hai


Beti Hai To Kal Hai

Beti Hai To Kal Hai(Paperback)

Author : Manish Kumar Sarita
Publisher : Uttkarsh Prakashan

Length : 64Page
Language : Hindi

List Price: Rs. 100

Discount Price Rs. 80

Selling Price
(Free delivery)





‘इस देश की विडम्बना देखिए जहाँ शक्ति के अवतार के रूप में माँ दुर्गा और काली की पूजा होती है, वहाँ इस देश में हर वर्ष भ्रूण हत्या और दहेज के लालच में लाखों बेटियों की बली चढ़ा दी जाती है ।।’ कवि की कला का सबसे बड़ा नमूना है कि वह शब्दों की गहराई में जाकर ऐसी ऐसी पंक्ति ढूंढ निकाले जो पाठक के जे़हन में घर कर जाये । इस पुस्तक के रचयिता उभरते हुए रचनाकार कानपुर निवासी मनीष कुमार सविता केे भावुक मन से निकली पंक्तियां जहां एक ओर सम्पूर्ण राष्ट्र को मार्गदर्शन देती प्रतीत होती हैं, वहीं कवि की कोमल भावुकता को भी सहज ही प्रदर्शित करती हैं। पुस्तक का विषय आज की जरूरत है, बेटियां ही सही मायने में माता-पिता को अंत तक सुख देती हैं। भ्रूण हत्या जैसे जघन्य पाप के खिलाफ लोगों को जागरुक करने का कवि का प्रयास सराहनीय है। अनेक रचनाओं में कवि की इच्छाएं और भावनाएं साफ झलकती हैं जो हरेक भारतीय के मन में होनी चाहिएं । अनेक रचनाएं आम आदमी के मर्म को छूने में कामयाब होंगी, ऐसी मेरी आशा है। कवि के उज्ज्वल भविष्य की कामना मां सरस्वती से करता हूँ साथ ही इतनी सुन्दर पुस्तक लिखने के लिए कवि को साधुवाद देता हूँ ।

Specifications of Beti Hai To Kal Hai (Paperback)

BOOK DETAILS

PublisherUttkarsh Prakashan
ISBN-1093-84312-09-6
Number of Pages64
Publication Year2015
LanguageHindi
ISBN-13978-93-84312-09-1
BindingPaperback

© Copyrights 2017. All Rights Reserved Uttkarsh Prakashan

Designed and Developed By: ScripTech Solutions