Uttkarsh Prakashan

Mere Ganv


Mere Ganv

Mere Ganv(Hard Cover)

Author : Dharmendra Singh 'dharam' Mainpuriya
Publisher : Uttkarsh Prakashan

Length : 132Page
Language : Hindi

List Price: Rs. 300

Discount Price Rs. 270

Selling Price
(Free delivery)



उत्तर प्रदेश के जिला मैनपुरी निवासी वरिष्ठ गीतकार श्री धर्मेन्द्र सिंह धरम द्वारा रचित और उत्कर्ष प्रकाशन द्वारा प्रकाशित यह तीसरी पुस्तक है इससे पूर्व बाल गीतों के दो संग्रह रंगीन 'नन्हे फूल' और 'अठखेलियाँ' प्रकाशित हुई थी .... मैनपुरी के प्रसिद्ध कवि धर्मेन्द्र सिंह ‘धरम’ मैनपुरिया की ‘मेरे गाँव’ ग़ज़ल संग्रह चौथी पद्यात्मक कृति है। प्रथम तीन कृतियाँ ‘उज्ज्वल गीतिका’, ‘अठखेलियाँ’ व ‘नन्हें फूल’ तो बाल कविता के बेहतर उद्धरण हैं। उनसे पूर्व मैनपुरी में नरेश चन्द्र सक्सैना ‘सैनिक’ ने विपुल बाल साहित्य की रचना करके यश अर्जित किया था। अपनी ग्रामीण पृष्ठभूमि और परिवेश से प्रेरित हो कवि ने ग्राम्य जीवन के विभिन्न आयाम प्रस्तुत किये हैं। ग्रामों पर कविता लिखने की परिपाटी हमें राष्ट्रकवि मैथिलीशरण गुप्त की कविता ग्राम्य जीवन से दृष्टिगत होती है। ग्राम्य जीवन की मनोहरता के अनेक पश्चातवर्ती कवियों ने अभिव्यक्ति दी है। श्री धरम मंचीय कवि होने के साथ-साथ पठनीय कवि भी हैं, इसलिये गाँव के कुओं में उन्हें आब-ए-जमजम के दर्शन होते हैं ‘धरम’ की ग़ज़लों में संभावनाओं की छाया है और अतिरिक्त रससिक्त अनुभूतियों की अपेक्षा है। उनकी ग़ज़लों में विषय वैविध्य भी देखने को मिलता है। उनकी ग़ज़लों में वक्रोक्ति और मुहावरे भी मिलते हैं।

Specifications of Mere Ganv (Hard Cover)

BOOK DETAILS

PublisherUttkarsh Prakashan
ISBN-10978-81-95247-28-8
Number of Pages132
Publication Year2021
LanguageHindi
ISBN-13978-81-95247-28-8
BindingHard Cover

© Copyrights 2021. All Rights Reserved Uttkarsh Prakashan

Designed By: Uttkarsh Prakashan